कांग्रेस ने पंजाब को बदहाली, भ्रष्टाचार और आर्थिक कंगाली के रास्ते पर धकेला: डॉ. सुभाष शर्मा

औसत आय में पंजाब 19वें स्थान पर, लोगों से दोबारा झूठे वादे कर रही है कांग्रेस: शर्मा | नवजोत सिंह सिद्धू और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भुपेश बघेल ने दोनों राज्यों को हाशिए की कगार पर पहुंचाया: सुभाष शर्मा
whatsapp-image-2022-01-31-at-6-46-48-pm

भारतीय जनता पार्टी पंजाब के प्रदेश महासचिव डॉ. सुभाष शर्मा ने कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू और छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल पर उनकी प्रेस कॉन्फ्रेंस के जवाब में करारा हमला करते हुए कहा कि कांग्रेस ने पंजाब और छत्तीसगढ़ को बदहाली, भ्रष्टाचार और आर्थिक कंगाली के रास्ते पर धकेला है। उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू अब लाखों नौकरियां देने के हवाई दावे कर रहे हैं, पंजाब को आर्थिक तौर पर सशक्त बनाने के हवाई किले बना रहे हैं। लेकिन सिद्धू यह बताएं कि बीते पांच वर्ष से पंजाब में किसकी सरकार थी? कांग्रेस और सिद्धू ने इन सभी घोषणाओं को पहले वास्तिवक रूप क्यों नहीं दिया?

डॉ. सुभाष शर्मा ने भूपेश बघेल को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि वह पंजाब और छत्तीसगढ़ में पेट्रोल और डीजल पर वैट कम करने की बात कर रहे हैं लेकिन उनकी याद्दाश्त कमजोर है। दोनों को यह याद होना चाहिए कि सर्वप्रथम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पेट्रोल और डीजल पर वैट घटाया और फिर भाजपा शासित राज्यों में रेट कम किए गए। इसके कई सप्ताह बीतने पर लोगों और भाजपा के दबाव में कांग्रेस को मजबूरन पैट्रोल-डीजल पर वैट कम करना पड़ा। लेकिन अभी भी पंजाब में पड़ोसी राज्यों की तुलना में पेट्रोल व डीजल महंगा है।

डॉ. सुभाष शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लीडरशिप की सराहना वैश्विक स्तर पर होती है। उनके नेतृत्व में भारत कोरोना काल के बीच आर्थिक तौर पर सबसे तेज गति से उभरा है। इस कारण भूपेश बघेल सूरज को रौशनी न दिखाएं तो बेहतर है। कांग्रेस के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी और प्रदेशाध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू बड़े अंतर से हार को तैयार रहें। मुख्यमंत्री चन्नी यह जानते हैं, इसी कारण वह चमकौर साहिब के अलावा भदौड़ की सीट से भी चुनाव के लिए खड़े हो गए हैं।