कांग्रेस हाईकमान द्वारा कैप्टन का किया गया अपमान, दुसरे कद्दावर नेताओं के लिए नसीहत : अश्वनी शर्मा

img-20210413-wa0023
भारतीय जनता पार्टी, पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने कांग्रेस हाईकमान द्वारा पंजाब के नए चुने गए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को पंजाब की कमान मिलने पर शुभकामनाएं दी हैं। शर्मा ने कहा कि कांग्रेस हाईकमान द्वारा लिया गया यह फैसला ऐसा लगता है कि मजबूरी में लिया गया है। क्यूंकि पंजाब कांग्रेस में पिछले लंबे समय से मचे घमासान को फिलहाल कुछ समय के लिए विराम लगाने के लिए यह फैसला लिया गया लगता है।

अश्वनी शर्मा ने कहाकि हरीश रावत द्वारा 2022 के विधानसभा चुनाव नवजोत सिंह सिद्धू को चेहरा बना कर लड़ने की जो बात कही गई है, उससे कांग्रेस की नीयत साफ़ हो गई है कि उनके मन में कुछ और ही चल रहा है। उन्होंने कहाकि चरणजीत सिंह चन्नी को मुख्यमंत्री बना कर कांग्रेस ने जो दाँव खेला है वो उन्हें उल्टा पड़ने वाला है। कांग्रेस द्वारा बताया जा रहा यह ऐतहासिक फैसला ऐतहासिकन न होकर  कांग्रेस में मचे कलह को कुछ समय तक शांत करने के लिए लिया गया फैसला है।

अश्वनी शर्मा ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को जिस तरह कांग्रेस में अपमानित किया गया है, उस पर कैप्टन द्वारा सिद्धू के विरुद्ध उठाए गए सवाल बिलकुल सही हैं, क्यूंकि भाजपा, कैप्टन सहित अन्य विपक्षी दल पहले से ही नवजोत सिंह सिद्धू के पाकिस्तान प्रेम पर सवाल खड़े करते आ रहे हैं। लेकिन सिद्धू ने कभी इस पर अपना जवाब नहीं दिया! शर्मा ने कहा कि सिद्धू द्वारा पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ईमरान खान के शपथ समारोह में ईमरान खान व पाकिस्तानी सेना के जनरल बाजवा के साथ गले मिलने पर भाजपा ने कड़ा विरोध किया था। सिद्धू या किसी की भी पाकिस्तान से दोस्ती देश या राष्ट्र प्रेम से ऊपर नहीं हो सकती।

अश्वनी शर्मा ने कहाकि भाजपा द्वारा उस वक्त जताए गए कड़े विरोध को आज कैप्टन द्वारा भी स्वीकार कर उठाया गया है, इससे भाजपा द्वारा उठाए गए सवाल सही साबित होते हैं। शर्मा ने कहाकि कैप्टन ने अपना सारा जीवन कांग्रेस को समर्पित किया था, लेकिन कांग्रेस द्वारा उनके साथ जो किया गया है वो वाकई कैप्टन को बहुत अपमानित करने वाला है, क्यूंकि इस सब से कैप्टन की बहुत जग-हंसाई हुई है! कैप्टन पंजाब के एक कद्दावर नेता है और उनके साथ कांग्रेस हाईकमान द्वारा ऐसा किया जाना कांग्रेस की नज़रों में कद्दावर नेताओं की कितनी अहमियत है यह साबित करता है!