कार्यकर्ता भाजपा की रीढ़ की हड्डी, इनके दम पर पंजाब में लहराएगी जीत का परचम: मीनाक्षी लेखी

 

whatsapp-image-2021-11-22-at-5-00-12-pm
विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने बूथ स्तरीय ढांचे को और मज़बूत करने हेतु शुरू किया संगठनातमक बैठकों का सिलसिला।

 विपक्ष अपने झूठे चुनावी वादों में जनता के वोट खरीदने की कर रहा कोशिश, लगा रहा एड़ी-चोटी का जोर: अश्वनी शर्मा

आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर भारतीय जनता पार्टी, पंजाब द्वारा प्रदेश में अपने बूथ लेवल तक संगठनातमक ढांचे की सरंचना को और सक्रिय करने व उसे और मज़बूत करने हेतु भाजपा मुख्यालय, चंडीगढ़ में बैठकों का सिलसिला शुरू किया गया है, जिसकी अध्यक्षता भारतीय जनता पार्टी, पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा द्वारा की गई, जिसमें पंजाब के अलग-अलग जिलों में पड़ने वाले विधानसभा क्षेत्रों के जिलाध्यक्ष, जिला महासचिव, मंडलो के अध्यक्ष तथा उनके महामंत्रियों ने भाग लिया। इन बैठकों में पार्टी के नार्थ जोन चुनाव सह-प्रभारी श्रीमती मीनाक्षी लेखी विशेष रूप से उपस्थित हुईं। उनके साथ इस अवसर पर राष्ट्रीय सचिव व प्रदेश भाजपा सह-प्रभारी डॉ. नरिंदर सिंह रैना, प्रदेश उपाध्यक्ष राकेश राठौर, प्रदेश महासचिव जीवण गुप्ता, डॉ. सुभाष शर्मा, राजेश बागा व दयाल सिंह सोढ़ी भी उपस्थित थे। अश्वनी शर्मा द्वारा श्रीमती मीनाक्षी लेखी का कार्यालय पहुँचने पर पुष्प-गुच्छ से स्वागत किया गया तथा इन बैठकों की शुरुआत दीप प्रज्वल्लित कर की गई।

मीनाक्षी लेखी ने उपस्थित कार्यकर्ताओं को अपने संबोधन में कहा कि भाजपा एक सुदृढ़ राजनीतिक दल है और पंजाब में इस वक्त राजनीतिक परिस्थितयां भाजपा के लिए बिलकुल अनुकूल हैं। क्यूंकि साढ़े चार साल में पंजाब सरकार की अराजकता के चलते जनता में उनका ग्राफ निम्न स्तर पर पहुँच चुका शुका है और जनता में अपनी विश्वसनीयता पूरी तरह खो चुकी है। अन्य विपक्षी दल भी इस चुनाव के अखाड़े में खोखले दावों के साथ बेअसर नजर आ रहे हैं। कांग्रेस के शासनकाल में जिस तरह से हर वर्ग दु:खी व प्रताड़ित है, हर उद्योग विनाश-स्तर पर है, नौजवान नशे की लत से ग्रसित हैं, बेरोजगारी चरम सीमा पर है, चुनाव में किए गए वादों से हर वर्ग दु:खी होकर त्राहि-त्राहि कर रहा है। कुछ विपक्षी दल जो अपने राज्यों से भी अपनी राजनीतिक छाप छोड़ चुके हैं, बाहरी राज्यों से आकर पंजाब में अपने पैर ज़माने की कोशिश कर रहे हैं और जनता से झूठे वादे कर वोट बटोरने के चक्कर में उन्हें सुनहरी सपने दिखा रहे हैं, उस पर भी जनता का विश्वास बनना ना के बराबर है। भाजपा के कार्यकर्त्ता पार्टी की रीढ़ की हड्डी हैं और 2022 में इन्हीं कार्यकर्ताओं के दम पर पार्टी विधानसभा चुनाव में पंजाब में जीत का परचम लहराएगी।

अश्वनी शर्मा ने इस अवसर पर अपने संबोधन में कहा कि प्रदेश सरकार व आप सुप्रीमों जनता को अपने झूठे व खोखले वादों की बरसात से लुभाने के लिए एड़ी-चोटी का जोर लगा रहे है। हर कोई अपने झूठे चुनावी वादों में जनता के वोट खरीदने की कोशिश में लगा है। जबकि कोई भी पंजाब के विकास या नौजवानों को रोज़गार या पंजाब के लिए उद्योगिक नीति पर बात नहीं करता। भाजपा पंजाब के लिए जनता के सहयोग से जनता के मुद्दों को अपनी चुनावी घोषणा-पत्र में शामिल करेगी और पंजाब में जनता के सहयोग से प्रचंड बहुमत से सरकार बनाएगी। प्रदेश की जनता का भी भाजपा में विश्वास दृढ़ हो चुका है और भाजपा उनकी विश्वसनीयता पर खरा उतरेगी। क्यूंकि भाजपा ने जो कहा है वो करके दिखाया है, इसलिए पंजाब की जनता भाजपा को केंद्र सरकार की तरह सुदढ़ सरकार के रूप में देखती हुई सत्ता की कमान भाजपा के हाथ देने का मन बना चुकी है।