गुजरात निकाय चुनावों ने भाजपा के वर्चस्व को बनाए रखते हुए एपीपी को पछाड़ा | पंजाब में आगामी विधानसभा चुनावों में एपीपी का भी होगा यही हश्र: अश्विनी शर्मा

img-20210413-wa0023
प्रदेश भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने गुजरात में हाल ही में हुए निकाय चुनावों में भाजपा की रिकॉर्ड जीत पर सभी को बधाई देते हुए कहा कि गुजरात की जनता ने सभी राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को दिखाया है कि केवल भाजपा ही एक राष्ट्रीय पार्टी है, जिसमें लोग फिर से अपना विश्वास दिखा रहे हैं। शर्मा ने कहाकि निकाय चुनावों में प्रभावशाली चुनावी जीत ने दर्शा दिया है कि जनता एपीपी के नापाक मंसूबों को कभी पूरा नहीं होने देगी और राज्य के लोगों ने वहां के शहरों में हुए “सर्वांगीण प्रगति और विकास” के लिए मतदान किया है। शर्मा ने कहा कि हमें यकीन है कि राज्य में अगले साल की शुरुआत में होने वाले विधानसभा चुनावों में एपीपी को प्रदेश की जनता हार का मुँह दिखाएगी क्योंकि पंजाबी लोगों का मूड केजरीवाल की “क्षुद्र विभाजन” की राजनीति के खिलाफ है।

अश्वनी शर्मा ने कहा कि एपीपी पंजाब के चतुर मतदाता को गुमराह करने में विफल रहेगा। पंजाब की जनता राज्य में कभी भी वैमनस्य पैदा नहीं करने देगी और अरविंद केजरीवाल को उसकी गंदी राजनीति का जवाब देगी | अश्वनी शर्मा ने कहा कि गुजरात में भाजपा ने प्रभावशाली अंतर से जीत हासिल की है। भाजपा ने न केवल अपनी बढ़त बनाए रखी, बल्कि अपने वोट शेयर को 1.7 से बढ़ाकर 46.5 कर दिया है, जिससे भाजपा को 90 प्रतिशत सीटें जीतने में मदद मिली है।