जीवन गुप्ता ने सिद्धू के सलाहकार मुस्तफ़ा के हिन्दू विरोधी ब्यान की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए उसकी गिरफ्तारी की की माँग।

पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू के रणनीतिक सलाहाकार पूर्व डीजीपी मोहम्मद मुस्तफा द्वारा मलेरकोटला में प्रचार के दौरान हिन्दू-विरोधी ब्यान कि ‘हिन्दुओं को उनके बराबर जलसे करने की इज़ाज़त देने पर मुस्तफा द्वारा जो हालात पैदा किए जाएंगें उन्हें प्रशासन द्वारा सम्भालना मुश्किल होगा और हिन्दुओं को घर में घुस कर मारने की दी गई धमकी’ पर तल्ख टीप्पणी करते हुए भारतीय जनता पार्टी पंजाब के प्रदेश महासचिव जीवन गुप्ता ने कहा कि मुस्तफा के ऐसे बयानों से कांग्रेस, मुख्यमंत्री चन्नी, सिद्धू व उनके नेताओं की देश विरोधी व हिन्दू-विरोधी मानसिकता एक बार फिर उजागर हुई है। जीवन गुप्ता ने मुस्तफा के ब्यान की कड़े शब्दों में घोर निंदा करते हुए कहा कि मुस्तफ़ा ऐसा ब्यान देकर पंजाब का शान्तमय व भाईचारे का माहौल खराब करना चाहते हैं। गुप्ता ने कहा कि हालाँकि पुलिस ने मुस्तफा के विरूद्ध मामला दर्ज कर लिया है, लेकिन वो सिर्फ महज दिखावा है।

जीवन गुप्ता ने कहा कि कांग्रेस की मानसिकता हमेशा से ही हिन्दू-विरोधी तथा देश-विरोधी रही है और ऐसे में उनके किसी भी नेता या कार्यकर्त्ता से देश-हितैषी या समाज-हितैषी सोच या कार्यों की उम्मीद करना बेकार है। कांग्रेस ने पंजाब में सचखंड श्री हरिमंदिर साहिब पर हमला करवाया, सिख नरसंहार करवाया, दिल्ली में सिख भाईयों के गले में टायर डाल कर जिन्दा जलाया, लेकिन कभी अपने इन कुकृत्यों के लिए पंजाब की जनता से माफ़ी नहीं मांगी। उधर नवजोत सिद्धू भी बार-बार पाकिस्तान की तारीफों के पुल बाँध कर अपने पाकिस्तानी प्रेम को जनता के सामने दर्शाते रहते हैं और उनके सलाहकार भी उनकी ही भाषा बोल रहे हैं।

जीवन गुप्ता ने हालाँकि पुलिस ने मोहम्मद मुस्तफा के विरुद्ध धारा 153-ए के तहत समुदायों के बीच दुश्मनी को बढ़ावा देने का मामला दर्ज किया है, जो कि नाकाफी है। पुलिस ने सरकार व सिद्धू के दबाव मुस्तफा के खिलाफ हल्की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। गुप्ता ने मांग की कि जो लोग समाज को तोड़ने या समुदायों के बीच दुश्मनी पैदा कर दंगें भड़काने का प्रयास करते हैं, उन्हें तुरंत सलाखों के पीछे डालना चाहिए।