ड्रग्स के प्रति जीरो टॉलरेंस नीति अपनाएगी भाजपा: पी.एस. गिल

whatsapp-image-2022-02-06-at-4-21-45-pm
भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनने पर ड्रग्स के प्रति जीरो टालरेंस नीति अपनाते हुए पंजाब में बह रहे नशे के अभिशाप रुपी दरिया को खत्म करना भाजपा की सर्वोच्च प्राथमिकता होगी। भाजपा के वरिष्ठ नेता और पंजाब पुलिस के पूर्व महानिदेशक पी.एस. गिल ने आज चंडीगढ़ भाजपा मुख्यालय में आयोजित संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि नशीले पदार्थों के मुद्दे को बहुआयामी दृष्टिकोण की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि पिछली सरकारों में से कोई भी अब तक इस खतरे पर अंकुश लगाने में कामयाब नहीं हुई है, क्योंकि इसके लिए दृढ़ इच्छाशक्ति और दृढ़ दृष्टिकोण की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि जहां एक तरफ नशे की आपूर्ति श्रृंखला को तोड़ने की आवश्यकता है, वहीं दूसरी तरफ जो लोग इसके शिकार हो चुके हैं, उन्हें ईलाज और पुनर्वास की आवश्यकता है।

पी.एस. गिल ने कहा कि ने भाजपा सरकार बनने पर हर जिले में सरकारी सुविधाओं में सभी नशा करने वालों का मुफ्त ईलाज को सुनिश्चित करेगी। ड्रग्स की तस्करी का जिक्र करते हुए पूर्व डीजीपी ने कहा कि इसकी आपूर्ति के सीमा पार और कुछ पड़ोसी राज्यों जैसे कई स्रोत हैं। उन्होंने कहा कि कुछ अवैध दवा कंपनियां पंजाब में सिंथेटिक दवाओं की आपूर्ति भी कर रही हैं जिन पर अंकुश लगाने की जरूरत है।

पी.एस. गिल ने इस खतरे से निपटने के लिए एक बहुआयामी और एकीकृत दृष्टिकोण का सुझाव देते हुए कहा कि सीमा सुरक्षा बल पहले से ही काम इसके लिए कार्य कर रहा है और नै तकनीकों के चलते उनकी चुनौतियां और बढ़ रही हैं। उन्होंने कहा कि अब ड्रग्स की तस्करी ड्रोन के जरिए भी की जा रही है। इसलिए इस खतरे को गंभीरता से लेने और सर्वोच्च प्राथमिकता देने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार बनने पर इसके खत्म करने के लिए विस्तृत खाका तैयार कर इस पर कारवाई की जाएगी।