(hindi) ‘तुसीं आपदे गुरद्वारे विच क्यों नी पांदे भोग : पंजाब के दलितों का दुख

Sorry, this entry is only available in Hindi.