भाजपा ने अमरिंदर सिंह को बिजली के रेट बढ़ाने के प्रस्ताव पर आड़े हाथों लिया ।

पंजाब भाजपा के महासचिव डॉ. सुभाष शर्मा ने कैप्टन अमरिंदर सिंह सरकार द्वारा बिजली दरों में आठ प्रतिशत की बढ़ोतरी के प्रस्ताव पर आड़े हाथों लेते हुए कहाकि कि आर्थिक मंदी के दौर में  यह प्रदेश की जनता से उनका निवाला छीनने जैसा होगा। उन्होंने कहाकि यह आम आदमी के साथ-साथ व्यापार और उद्योग के लिए गंभीर संकट का कारण होगा जो कोविड-19 महामारी के प्रतिकूल प्रभावों से उबर रहा था।

सरकार को अपने फैसला तुरंत वापस लेने की मांग करते हुएशर्मा ने कहाकि पंजाब स्टेट पावर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (पीएसपीसीएल) अपने 2021-22 के सारे बजट को बिजली दरों में आठ प्रतिशत की बढ़ोतरी कर के उपभोक्ताओं के सर पर डाल कर अपनी कार्यात्मक अक्षमताओं को छुपाना चाहती है।