मुख्यमंत्री चन्नी के बेटे द्वारा डीजीपी के साथ बैठक में शामिल हो कर ‘शासन’ के सभी नियमों की धज्जियाँ उड़ाई गई: अश्विनी शर्मा

img-20210413-wa0023 पिछले दिनों मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के बेटे को डी.जी.पी. के साथ एक उच्च स्तरीय बैठक में भाग लेते देखा गया था, पर कड़ा नोटिस लेते हुए भारतीय जनता पार्टी, पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष अश्विनी शर्मा ने कहा कि यह पंजाब की आज तक के शासन में कभी नही हुआ, क्यूंकि यह पूरी तरह अनैतिक तथा गैर-सवैधानिक है।

अश्वनी शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री चन्नी “शासन के नियमों” से अच्छी तरह वाकिफ हैं, क्योंकि वह एक पूर्व मंत्री और तीन बार विधायक भी रहे हैं। शर्मा ने कहा कि संविधान के नियमों का सम्मान करते हुए मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को विश्वसनीयता व  अपने पद की गरिमा हमेशा बनाए रखनी चाहिए। लेकिन यह बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि वरिष्ठ नौकरशाहों ने नियमों और मानदंडों से अच्छी तरह वाकिफ होकर भी इस त्रुटि को होने दिया।