मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने , भारतीए सविधान में मुख़्यमंत्री को दिलाई जाने वाली , पद व् गोपनीता की शपथ की उलंघना की है – मनोरंजन कालिया

22-4-2021-m-kalia
पूर्व मंत्री पंजाब एवं पूर्व प्रदेश अध्यक्ष भाजपा पंजाब श्री मनोरंजन कालिया ने कहा कि श्री सुनील जाखड़, प्रधान  पी.पी.सी. सी को कैबिनेट मीटिंग में बैठाकर ,मुख्यमंत्री पंजाब कैप्टन अमरिंदर सिंह ने , भारतीए सविधान में मुख़्यमंत्री को दिलाई जाने वाली , पद व् गोपनीता की शपथ की उलंघना  की है क्योकि  कैबिनेट मीटिंग  में केवल कैबिनेट मंत्री ही बैठ सकते हैं . श्री कालिया  ने मांग की कि कैप्टेन  अमरिंदर सिंह मुख़्यमंत्री पद से इस्तीफा दे ।

आमतौर पर सरकार के प्रवक्ता या मंत्री प्रेस को मंत्रिमंडल की बैठक में लिए गए निर्णयों की जानकारी देते हैं लेकिन श्री सुनील जाखड़  प्रदेश अध्यक्ष पी.पी.सी. सी.ने कैबिनेट बैठक के फैसलों के बारे में प्रेस को जानकारी देकर , श्री सुनील जाखड़ ने कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष की गरिमा को कम किया है और श्री सुनील जाखड़ को इस के लिए   इस्तीफा दे  देना चाहिए। aविशेष जांच दल (एसआईटी) या किसी अन्य जांच अधिकारी  द्वारा जांच न केवल निष्पक्ष होनी चाहिए, बल्कि निष्पक्ष प्रतीत भी होनी चाहिए श्री सुनील जाखड़, अध्यक्ष पी.पी.सी.सी. दुवारा    एसआईटी की जाँच पर राजनितिक  नरीक्षण की बात करके  एसआईटी की निर्णेय के पूर्व निजोजित मानसिकता के साथ प्रभावित करने की बू आती है  । श्री कालिया ने आगे कहा कि इन परिस्थितियों में, एक ईमानदार अधिकारी को जांच के निष्पक्ष निर्णेय तक पहुंचने के लिए कई बाधाओं का सामना करना पड़ता है  और इस तरह यह माननीय पंजाब हरियाणा   उच्च न्यायालय द्वारा पंजाब पुलिस के द्वारा 2015 में हुई कोटकपूरा में हुई फायरिंग के संदर्व में  दायर चार्जशीट को खारिज करने के फैसले को सही ठहराता है।