मुख्यमंत्री बदल कर अपनी नाकामियों को छुपाने के चक्कर में हैं यह कांग्रेसी: डॉ. सुभाष शर्मा

subhash-sharma-gen-sec-bjp-punjab-1
भारतीय जनता पार्टी, पंजाब के प्रदेश महासचिव डॉ. सुभाष शर्मा ने पंजाब कांग्रेस में मचे घमासान को लेकर कहाकि कांग्रेस इस वक्त सत्ता की लड़ाई चल रही है। उन्होंने कहाकि पंजाब की जनता कांग्रेस की जन-विरोधी नीतियों से त्रस्त है। पंजाब की जनता को देश की सबसे महंगी बिजली मिल रही है। पंजाब के उद्योग महंगी बिजली तथा कांग्रेस की उद्योग विरोधी नीतियों के चलते पंजाब से पलायन कर रहे हैं।

डॉ. सुभाष शर्मा ने कहा कि आज तीन दिनों से किसान गन्ने की फसल का रेट बढ़ाने तथा गन्ने की फसल का चीनी मिलों से 200 करोड़ रूपये से अधिक का बकाया लेने के लिए जालंधर-दिल्ली राष्ट्रीय राजमार्ग जाम करके बैठे हैं, जिससे व्यापारियों का बहुत बड़ा आर्थिक नुकसान तथा आम नागरिकों को आने-जाने का बहुत परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उन्होंने कहाकि पंजाब की कांग्रेस सरकार किसानों की मांगों, व्यापारियों के हो रहे आर्थिक नुकसान तथा आम नागरिको की परेशानियों के प्रति गंभीर नहीं है। अपने आप को किसान हितैषी होने के बड़े-बड़े दावे करने वाली कांग्रेस सरकार के इस रवैये से कांग्रेस का किसान विरोधी चेहरा एक बार फिर से उजागर हुआ है। उन्होंने कहाकि कैप्टन के साढ़े चार वर्ष के शासन काल में पंजाब में सिर्फ माफिया राज ही पनपा है, आज पंजाब में ड्रग्स माफिया, रेत माफिया, शराब माफिया, भू-माफिया आदि का बोलबाला है और यह माफिया पुलिस को बंधक बना कर उनसे मारपीट करते हुए कानून की धज्जियां उड़ा रहे हैं।

डॉ. सुभाष शर्मा ने कांग्रेस के मंत्रियों का आने वाले विधानसभा चुनाव में अब डर सता रहा है कि वो जनता के पास किस मुँह से वोट मांगने जाएंगे, क्यूंकि उन्हें पता है कि उन्होंने खुद और उनकी कांग्रेस सरकार ने पिछले साढ़े चार वर्षों में पंजाब के विकास और जनता के लिए कुछ नहीं किया? 2017 के चुनाव में जो बड़े-बड़े वादे कर सरकार बनाई थी, उसमें से एक भी वादा आज तक पूरा नहीं किया गया, इसलिए यह भ्रष्टाचारी कांग्रेसी नेता परेशान हैं और मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को बाली का बकरा बना कर पंजाब की जनता को मुर्ख बनाने में लगे हैं। उन्होंने कहाकि यह सभी बगावती कांग्रेसी अपनी नाकामियों का ठीकरा मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह के सर फोड़ कर खुद को बचाने के लिए यह सब ड्रामा कर रहे हैं। लेकिन पंजाब की जनता इन कांग्रेसियों का सारा ड्रामा समझ चुकी है और आने वाले चुनाव में जनता अपनी वोट की ताकत से पंजाब के मुख्यमंत्री सहित पूरी कांग्रेस सरकार को बदल कर भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनाने का मन बना चुकी है। क्यूंकि भाजपा ने नशा-मुक्त तथा भष्टाचार-मुक्त सरकार देने के वादा किया है और भाजपा जो वादा करेगी उसे वो अवश्य पूरा करेगी।