संयुक्त किसान मोर्चे द्वारा दशहरे पर प्रधानमंत्री मोदी व केन्द्रीय गृह मंत्री शाह के पुतले फूंकने का फैसला वापिस लेने का भाजपा ने किया स्वागत।

subhash-sharma-gen-sec-bjp-punjab-1
संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं द्वारा दशहरे के दिन देश के प्रधानमंत्री नरेंदर दामोदरदास मोदी तथा केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह के पुतले फूंक कर देश की एकता व अखंडता को भंग करने वाले किए गए अपने ऐलान को वापिस लेने का भारतीय जनता पार्टी, पंजाब के प्रदेश महामंत्री डॉ. सुभाष शर्मा ने स्वागत व धन्यवाद किया है। डॉ. शर्मा ने कहा कि पंजाब सहित समूचे भारत में नवरात्रों का त्यौहार सभी मिलजुल कर मानते हैं तथा यह त्यौहार  बुराई पर अच्छी की जीत का है।

डॉ. सुभाष शर्मा ने कहा कि संयुक्त किसान मोर्चा के इस फैसले का सभी द्वारा कड़ा विरोध जताया गया था तथा उन्हें अपने इस फैसले पर पंर-विचार करने की अपील की गई थी, जिस पर संयुक्त किसान मोर्चा द्वारा इसे वापिस ले लिए गया है। उन्होंने कहा कि विदेश में बैठे आंतकी सरगना, कुछ असमाजिक तत्व व विपक्षी दल अपने नीच राजनीतिक स्वार्थ के लिए किसानों की आढ़ में देश को धर्म व जाति के आधार पर बाँटने व समाज में दंगे भड़काने का काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि किसान संगठन के नेताओं को ऐसी शक्तियों से सावधान रहने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि भारत में लोकतंत्र है और अपनी माँग को लेकर विरोध-प्रदर्शन करना सबका मौलिक अधिकार है। लेकिन किसी को भी किसी के धर्म या उनके त्यौहार में खलल डालने का कोई अधिकार नहीं है। उन्होंने संयुक्त किसान मोर्चा के नेताओं को एक बार फिर केंद्र सरकार के दिए पाँच सदसीय टीम बना कर बातचीत के न्यौते के माध्यम से अपना गतिरोध हल करवाने का आह्वान किया।