हवा-हवाई वादे कब होंगें पूरे, जनता तक कब पहुंचेंगे इसके लाभ, पंजाब का खज़ाना है खाली: अश्वनी शर्मा

ashwani-sharma-2
मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी द्वारा प्रदेश के 36,000 कच्चे कर्मचारियों को पक्का करने व दिहाड़ी मज़दूरी बढ़ाने के लिए गए हवाई ऐलान पर प्रदेश सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए भारतीय जनता पार्टी पंजाब के प्रदेश अध्यक्ष अश्वनी शर्मा ने सवाल किया कि चन्नी को क्या पता है कि उनका खज़ाना खाली है और अब खज़ाने पर नए डाले जा रहे बोझ को कैसे पूरा किया जायेगा? क्या चन्नी इसके लिए अगली सरकार के सिर पर डाल कर खुद किनारा कर रहे हैं। शर्मा ने कहा कि यह धोखे भरे वादे चन्नी कब और कैसे पूरे करेंगें? शायद चन्नी को पंजाब की सही स्थिति के बारे में जानकारी नहीं है। क्या आपके पास इन्हें पूरा करने के लिए पैसा है?

अश्वनी शर्मा ने कहा कि मुख्यमंत्री चन्नी ने राज्य के 36 हजार कर्मचारीयों को पक्का करने की घोषणा की है, तो इसमें कौन सी नई बात है, क्यूंकि यह तो रूटीन कार्य है। शर्मा ने सवाल किया कि पंजाब सरकार ने जो दिहाड़ी मजदूरी बढ़ाकर 415.59 रुपये करने की भी घोषणा की है, उसका भार पंजाब के खज़ाने पर कैसे वहन किया जाएगा? क्यूंकि पंजाब के वित्त मंत्री मनप्रीत सिंह बादल कई बार कह चुके हैं कि पंजाब का खज़ाना खाली है और इसकी पुष्टि पंजाब सरकार द्वारा बनाई गई मोंटेक सिंह अहलुवालिया की वित्त कमेटी भी कर चुकी है। चन्नी सरकार ने जो रेत के दाम तय किए हैं और नई रेत की दरें 31 मार्च तक लागू करने की बात कही है, उस पर सवाल उठाते हुए शर्मा ने कहा कि पंजाब में रेत माफिया, भू-माफिया, शराब माफिया सब कांग्रेसियों या इनके सरंक्षितों के हाथ में है और कानून को तोड़ने तथा धत्ता बताने वाले इन माफियाओं के विरुद्ध कारवाई कौन करेगा?

अश्वनी शर्मा ने चन्नी द्वारा Tax माफ करने के साथ-साथ बिजली भी 3 रुपये सस्ती करने के एलान पर सवाल किया कि पंजाब सरकार पहले ही फ्री बिजली देकर बिजली विभाग तथा बिजली बनाने वाली कम्पनियों की हजारों करोड़ की करजाई है, ऐसे में चन्नी के नए-नए चुनावी वादे तह ऐलान पंजाब में पाकिस्तान जैसे हालात बनाने में कहीं आखिरी कील ना साबित हों?  शर्मा ने कहा कि पंजाब सरकार प्रदेश की जनता को गुमराह करने का काम कर रही है और साढ़े चार वर्षों में जिन कांग्रेसी मंत्रियों ने जम कर लूटा, वही आज जनता का मसीहा बनने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं, लेकिन पंजाब की जनता इस बार इन कांग्रेसियों के झूठे वादों के झांसे में नहीं आएगी और इसका जवाब चुनाव में अपनी वोट की ताकत से देकर कांग्रेस को करारा सबक सिखाएगी।